name
name
name
name
name
name

सूचना

प्राथमिक भूमि विकास बैंकों द्वारा वर्तमान में किसानों एवं लघु उद्यमियों को 12.10 प्रतिशत वार्षिक ब्‍याज दर पर दीर्घकालीन ऋण उपलब्‍ध करवाये जा रहे हैं।

   
name

बैंक द्वारा संचालित व्यक्तिगत / सामूहिक लाभ की ऋण योजनाऐं

प्रदेश के कृषि एवं ग्रामीण विकास कार्यो का बढ़ावा देने, बेरोजगारी दूर करने, महिलाओं को विकास में भागीदार बनाने, उद्योग धन्धों को बढ़ावा देने के लिए दीर्घकालीन सहकारी साख के माध्यम से राजस्थान राज्य सहकारी

 

view more असफल कूप क्षतिपूर्ति सहायता योजना   view more असफल नलकूप क्षतिपूर्ति सहायता   view more लघु पथ परिवहन वाहन ऋण
view more फॅव्वारा सिंचाई योजना   view more बून्द-बून्द सिंचाई योजना   view more जलमंगल आवास योजना
view more पाईप लाईन योजना   view more शैक्षणिक संस्थान हेतु ऋण योजना   view more स्वरोजगार क्रेडिट कार्ड योजना
view more विद्युतीकरण योजना   view more उच्च शिक्षा ऋण योजना   view more उद्यम ऋण योजना
view more नवकूप (डगवैल)/ डग कम बोरवैल/केवटीपाइप-बोरवैल   view more व्यक्तिगत वाहन ऋण योजना   view more कृषि यंत्रीकरण योजना
view more कूप गहरा योजना   view more सूचना प्रोद्यौगिकी ऋण योजना   view more महिला विकास ऋण योजना
view more नलकूप/बौरवेल मय पम्प सैट योजना   view more स्वास्थ्य सेवा योजना   view more सावधि जमा योजना
view more डीजल/विद्युत पम्प सैट योजना   view more पर्यटन विकास योजना      
           

 

  असफल कूप क्षतिपूर्ति सहायता योजना 222--

क्र-सं- विवरण

1- योजना का नाम - असफल कूप क्षतिपूर्ति सहायता योजना

2- योजना का संक्षिप्त परिचय - भूमि विकास बैकों से ऋण प्राप्त कर निर्मित कूपों के निर्धारित मापदण्डों के अनुसार असफल होने पर क्षतिपूर्ति सहायता देय।

3- प्रारम्भ होने का वर्ष - 1985-86

4- लाभान्वित वर्ग/पात्रता - ऋणी कृषक

5- देय सुविधाये- बकाया मूल ऋण के 50 प्रतिशत राशि की सहायता स्वीकृत की जाती है।

6- आवेदन का तरीका - प्रार्थना पत्र मय समस्त दस्तावेज के क्षेत्र के प्रा- बैंक/ शाखा में प्रस्तुत करना होता है।

7- आवेदन कहॉ किया जावे - सम्बन्धित प्राथ- भूमि विकास बैंक एवं उनकी शाखा

8- आवेदन के साथ औपचारिकताये - पूर्ण भरा हुआ निर्धारित आवेदन पत्र मय

दस्तावेज :भूमि स्वामित्व दस्तावेज, भूमि के नक्शे की प्रति, शपथपत्र।

9- सम्पर्क सूत्र - सचिव, प्रा-भू-वि-बैंक / शाखा सचिव

 फॅव्वारा सिंचाई योजना 224 ---

क्र-सं- विवरण

1- योजना का नाम - फव्वारा सिंचाई योजना

2- योजना का संक्षिप्त परिचय -फव्वारा संयत्र द्वारा पानी की बचत करते हुए समान रूप से पूर्ण भूमि पर आवश्यकतानुसार सिंचाई की जा सकती है। इसके द्वारा फसलों पर कीटनाशक दवा का छिड़काव भी किया जा सकता है।

3- प्रारम्भ होने का वर्ष - 1983-84

4- लाभान्वित वर्ग/पात्रता - कृषक

5- देय सुविधाये- बैंक द्वारा समय≤ पर परिवर्तित ब्याज दर लागू होगी । अवधिपार राशि पर 3 प्रतिशत की दर से दण्डनीय ब्याज देय होगा, उद्यान विभाग द्वारा अनुदान निम्न सारणी अनुसार देय, पुनर्भुगतान अवधि 10-15 वर्ष

क्र-सं- फॅव्वारा मॉडल (है-) देय अनुदान (एल्यूमिनियम व एचडीपीई दोनों के लिए)

समस्त श्रेणी के कृषक

63 उउ 75 उउ 90 उउ

1- 0-5 3950 4100 -

2- 1 6850 7150 7500

3- 2 8500 8850 10600

4- 3 10900 11300 13450

5- 4 12900 13300 15750

6- 5 15050 15500 18300

6- आवेदन का तरीका - प्रार्थना पत्र मय समस्त दस्तावेज के क्षेत्र के प्रा- बैंक/ शाखा में प्रस्तुत करना होता है एंव कृषि भूमि बतौर प्रतिभूति प्राथ-बैंक के पक्ष मे बन्धक करनी होती है।

7- आवेदन कहॉ किया जावे - : सम्बन्धित प्राथ- भूमि विकास बैंक एवं उनकी शाखा

8- आवेदन के साथ औपचारिकताये - पूर्ण भरा हुआ निर्धारित आवेदन पत्र मय दस्तावेज, जमाबन्दी, पासबुक, खसरा गिरदावरी, भूमि स्वामित्व दस्तावेज, नो- डयूज प्रमाण पत्र,भूमि के नक्शे की प्रति, शपथपत्र, उद्देश्य हेतु अनुमान पत्र आदि

9- सम्पर्क सूत्र - सचिव, प्रा-भू-वि-बैंक / शाखा सचिव

 

- पाईप लाईन योजना 225---

क्र-सं- विवरण

1- योजना का नाम - पाईप लाईन योजना

2- योजना का संक्षिप्त परिचय - भूजल का अधिकतम उपयोग करने हेतु एवं खेतों में पानी पहुॅचाने के लिये पक्की नाली, एच- डी-पी-ई तथा पी-वी-सी- पाईप लाईन हेतु ऋण उपलब्ध करवाया जाता है।

3- प्रारम्भ होने का वर्ष - 1983-84

4- लाभान्वित वर्ग/पात्रता - कृषक

5- देय सुविधाये- बैंक द्वारा समय≤ पर परिवर्तित ब्याज दर लागू होगी । अवधिपार राशि पर 3 प्रतिशत की दर से दण्डनीय ब्याज देय होगा, उद्यान विभाग द्वारा अनुदान निम्न सारणी अनुसार देय, पुनर्भुगतान अवधि 10-15 वर्ष

क्र-सं- पाईप लाईन

(मी-) देय अनुदान

सामान्य कृषक लघु/सीमांत/अजा/अजजा/ महिला कृषक

एचडीपीई पाइप पी-वी-सी-पाइप एचडीपीई पाइप पी-वी-सी-पाइप

1- 210 मी- तक 15 रु-/ मी- या अधिकतम 3150 रुपये 13 रु-/ मी- या अधिकतम रुपये 5250 25 रु-/मी- या अधिकतम 5250 रुपये 22 रु-/मी- या अधिकतम रुपये 4600

2- 210 मी- से 400 मी- तक 15 रु-/मी- या अधिकतम 5000 रुपये 13 रु-/मी- या अधिकतम 4300 रुपये 25 रु-/मी- 210 मी- तक तथा इससे ऊपर 15 रु-/मी- या अधिकतम 8000 रुपये 22 रु-/मी- 210 मी- तक तथा इससे ऊपर 13 रु-/मी- या अधिकतम 7000 रुपये

6- आवेदन का तरीका - प्रार्थना पत्र मय समस्त दस्तावेज के क्षेत्र के प्रा- बैंक / शाखा में प्रस्तुत करना होता है एंव कृषि भूमि बतौर प्रतिभूति प्राथ-बैंक के पक्ष मे बन्धक करनी होती है।

7- आवेदन कहॉ किया जावे - सम्बन्धित प्राथ- भूमि विकास बैंक एवं उनकी शाखा

8- आवेदन के साथ औपचारिकताए - पूर्ण भरा हुआ निर्धारित आवेदन पत्र मय दस्तावेज: जमाबन्दी, पासबुक, खसरा गिरदावरी, भूमि स्वामित्व दस्तावेज, नो- डयूज प्रमाण पत्र,भूमि के नक्शे की प्रति, शपथपत्र, उद्देश्य हेतु अनुमान पत्र आदि

9- सम्पर्क सूत्र - सचिव, प्रा-भू-वि-बैंक / शाखा सचिव

 

 

- विद्युतीकरण योजना(226) --

क्र-सं- विवरण

1- योजना का नाम - विद्युतिकरण योजना

2- योजना का संक्षिप्त परिचय - डार्क जोन घोषित होने से पूर्व निर्मित नवकूप/ डग कम बोर वैल/ कैविटी पाईप बोर वैल/ ट्‌यूब वैल पर विद्युत कनेक्शन हेतु विद्युत वितरण निगम के मॉग पत्र के आधार पर राशि जमा करवाने एवं कुओं पर डीजल पम्पसैट के स्थान पर समान अश्व की विद्युत मोटर के लिये ऋण उपलब्ध करवाया जाता है।

3- प्रारम्भ होने का वर्ष - 2003-04

4- लाभान्वित वर्ग/पात्रता - कृषक

5- देय सुविधाये- ऋण 50000 रुपये से एक लाख रुपये तक, बैंक द्वारा समय≤ पर परिवर्तित ब्याज दर लागू होगी । अवधिपार राशि पर 3 प्रतिशत की दर से दण्डनीय ब्याज देय होगा, पुनर्भुगतान अवधि 9 वर्ष

6- आवेदन का तरीका - प्रार्थना पत्र मय समस्त दस्तावेज के क्षेत्र के प्रा- बैंक/ शाखा में प्रस्तुत करना होता है एंव कृषि भूमि बतौर प्रतिभूति प्राथ-बैंक के पक्ष मे बन्धक करनी होती है।

7- आवेदन कहॉ किया जावे - सम्बन्धित प्राथमिक भूमि विकास बैंक एवं उनकी शाखा

8- आवेदन के साथ औपचारिकताये - पूर्ण भरा हुआ निर्धारित आवेदन पत्र मय दस्तावेज: जमाबन्दी, पासबुक, खसरा गिरदावरी, भूमि स्वामित्व दस्तावेज, नो- डयूज प्रमाण पत्र,भूमि के नक्शे की प्रति, शपथपत्र, उद्देश्य हेतु अनुमान पत्र आदि

9- सम्पर्क सूत्र - सचिव, प्रा-भू-वि-बैंक / शाखा सचिव

 

 नवकूप (डगवैल)/ डग कम बोरवैल/केवटीपाइप-बोरवैल योजना(227 -

क्र-सं- विवरण

1- योजना का नाम - नवकूप (डग वैल) डग कम बोर वैल/केविटी पाईप बोर वैल एवं पम्पसैट योजना

2- योजना का संक्षिप्त परिचय - नवकूप/डग कम बोर वैल/ केविटी पाईप बोर वैल एवं पम्पसैट हेतु राज्य में डार्क क्षेत्रों को छोडकर ग्रे क्षेत्रों में नाबार्ड योजना एवं व्हाईट क्षेत्र में स्व:वित्त पोषित योजनान्तर्गत ऋण उपलब्ध करवाया जाता है।

3- प्रारम्भ होने का वर्ष - 1957-58

4- लाभान्वित वर्ग/पात्रता - कृषक

5- देय सुविधाये- बैंक द्वारा समय≤ पर परिवर्तित ब्याज दर लागू होगी । अवधिपार राशि पर 3 प्रतिशत की दर से दण्डनीय ब्याज देय होगा, पुनर्भुगतान अवधि 9-12 वर्ष

6- आवेदन का तरीका - प्रार्थना पत्र मय समस्त दस्तावेज के क्षेत्र के प्रा- बैंक / शाखा में प्रस्तुत करना होता है एंव कृषि भूमि बतौर प्रतिभूति प्राथ-बैंक के पक्ष मे बन्धक करनी होती है।

7- आवेदन कहॉ किया जावे - सम्बन्धित प्राथ- भूमि विकास बैंक एवं उनकी शाखा

8- आवेदन के साथ औपचारिकताये - पूर्ण भरा हुआ निर्धारित आवेदन पत्र मय दस्तावेज: जमाबन्दी, पासबुक, खसरा गिरदावरी, भूमि स्वामित्व दस्तावेज, नो- डयूज प्रमाण पत्र,भूमि के नक्शे की प्रति, शपथपत्र, उद्देश्य हेतु अनुमान पत्र आदि

9- सम्पर्क सूत्र - सचिव, प्रा-भू-वि-बैंक / शाखा सचिव

 

कूप गहरा योजना(228) ---

क्र-सं- विवरण

1- योजना का नाम - कूप गहरा योजना

2- योजना का संक्षिप्त परिचय - कृषकों की कृषि भूमि पर पूर्व में स्थित कुओं को खुदाई एवं बोरिंग द्वारा गहरा कराने के लिये व्हाईट एवं ग्रे क्षेत्रों में ऋण उपलब्ध करवाया जाता है।

3- प्रारम्भ होने का वर्ष - 1957-58

4- लाभान्वित वर्ग/पात्रता - कृषक

5- देय सुविधाये - बैंक द्वारा समय≤ पर परिवर्तित ब्याज दर लागू होगी । अवधिपार राशि पर 3 प्रतिशत की दर से दण्डनीय ब्याज देय होगा, पुनर्भुगतान अवधि 5-9 वर्ष

6- आवेदन का तरीका - प्रार्थना पत्र मय समस्त दस्तावेज के क्षेत्र के प्रा- बैंक / शाखा में प्रस्तुत करना होता है एंव कृषि भूमि बतौर प्रतिभूति प्राथ-बैंक के पक्ष मे बन्धक करनी होती है।

7- आवेदन कहॉ किया जावे - सम्बन्धित प्राथ- भूमि विकास बैंक एवं उनकी शाखा

8- आवेदन के साथ औपचारिकताये - पूर्ण भरा हुआ निर्धारित आवेदन पत्र मय दस्तावेज: जमाबन्दी, पासबुक, खसरा गिरदावरी, भूमि स्वामित्व दस्तावेज, नो- डयूज प्रमाण पत्र,भूमि के नक्शे की प्रति, शपथपत्र, उद्देश्य हेतु अनुमान पत्र आदि

9- सम्पर्क सूत्र - सचिव, प्रा-भू-वि-बैंक / शाखा सचिव

 नलकूप/बौरवेल मय पम्प सैट योजना (229) ---

क्र-सं- विवरण

1- योजना का नाम - नलकूप/बोरवैल एवं पम्पसैट योजना

2- योजना का संक्षिप्त परिचय - सिंचाई हेतु व्हाईट एवं ग्रेे क्षेत्रों में नाबार्ड स्वीकृत योजनान्तर्गत नलकूप एवं सबर्सिबल पम्पसैट हेतु ऋण उपलब्ध करवाया जाता है।

3- प्रारम्भ होने का वर्ष - 1957-58

4- लाभान्वित वर्ग/पात्रता - कृषक

5- देय सुविधाये - बैंक द्वारा समय≤ पर परिवर्तित ब्याज दर लागू होगी । अवधिपार राशि पर 3 प्रतिशत की दर से दण्डनीय ब्याज देय होगा, पुनर्भुगतान अवधि 9-12 वर्ष

6- आवेदन का तरीका - प्रार्थना पत्र मय समस्त दस्तावेज के क्षेत्र के प्रा- बैंक / शाखा में प्रस्तुत करना होता है एंव कृषि भूमि बतौर प्रतिभूति प्राथ-बैंक के पक्ष मे बन्धक करनी होती है।

7- आवेदन कहॉ किया जावे - सम्बन्धित प्राथ- भूमि विकास बैंक एवं उनकी शाखा

8- आवेदन के साथ औपचारिकताये - पूर्ण भरा हुआ निर्धारित आवेदन पत्र मय दस्तावेज: जमाबन्दी, पासबुक, खसरा गिरदावरी, भूमि स्वामित्व दस्तावेज, नो- डयूज प्रमाण पत्र,भूमि के नक्शे की प्रति, शपथपत्र, उद्देश्य हेतु अनुमान पत्र आदि

9- सम्पर्क सूत्र - सचिव, प्रा-भू-वि-बैंक / शाखा सचिव

9- डीजल/विद्युत पम्प सैट योजना- (230) -

क्र-सं- विवरण

1- योजना का नाम - डीजल/विद्युत पम्पसैट योजना

2- योजना का संक्षिप्त परिचय - कृषकों को सिंचाई कार्य के लिये नवकूप/ नलकूपों से जल दोहन हेतु व्हाईट एवं ग्रे क्षेत्रों में डीजल/विद्युत पम्पसैट के लिये ऋण उपलब्ध करवाया जाता है।

3- प्रारम्भ होने का वर्ष - 1957-58

4- लाभान्वित वर्ग/पात्रता - कृषक

5- देय सुविधाये - बैंक द्वारा समय≤ पर परिवर्तित ब्याज दर लागू होगी । अवधिपार राशि पर 3 प्रतिशत की दर से दण्डनीय ब्याज देय होगा, पुनर्भुगतान अवधि 9 वर्ष

6- आवेदन का तरीका - प्रार्थना पत्र मय समस्त दस्तावेज के क्षेत्र के प्रा- बैंक / शाखा में प्रस्तुत करना होता है एंव कृषि भूमि बतौर प्रतिभूति प्राथ-बैंक के पक्ष मे बन्धक करनी होती है।

7- आवेदन कहॉ किया जावे - सम्बन्धित प्राथ- भूमि विकास बैंक एवं उनकी शाखा

8- आवेदन के साथ औपचारिकताये - पूर्ण भरा हुआ निर्धारित आवेदन पत्र मय दस्तावेज: जमाबन्दी, पासबुक, खसरा गिरदावरी, भूमि स्वामित्व दस्तावेज, नो- डयूज प्रमाण पत्र,भूमि के नक्शे की प्रति, शपथपत्र, उद्देश्य हेतु अनुमान पत्र आदि

9- सम्पर्क सूत्र - सचिव, प्रा-भू-वि-बैंक / शाखा सचिव

 

10- असफल नलकूप क्षतिपूर्ति सहायता योजना (231) -

क्र-सं- विवरण

1- योजना का नाम - असफल नलकूप क्षतिपूर्ति सहायता योजना

2- योजना का संक्षिप्त परिचय - भूमि विकास बैकों से ऋण प्राप्त कर निर्मित नलकूपों के निर्धारित मापदण्डों के अनुसार असफल होने पर क्षतिपूर्ति सहायता देय।

3- प्रारम्भ होने का वर्ष - 2005-06

4- लाभान्वित वर्ग/पात्रता - ऋणी कृषक

5- देय सुविधाये - बकाया मूल ऋण के 50 प्रतिशत राशि की सहायता स्वीकृत की जाती है।

6- आवेदन का तरीका - प्रार्थना पत्र मय समस्त दस्तावेज के क्षेत्र के प्रा- बैंक / शाखा में प्रस्तुत करना होता है एंव कृषि भूमि बतौर प्रतिभूति प्राथ-बैंक के पक्ष मे बन्धक करनी होती है।

7- आवेदन कहॉ किया जावे - सम्बन्धित प्राथ- भूमि विकास बैंक एवं उनकी शाखा

8- आवेदन के साथ औपचारिकताये - पूर्ण भरा हुआ निर्धारित आवेदन पत्र मय दस्तावेज :भूमि स्वामित्व दस्तावेज, भूमि के नक्शे की प्रति, शपथपत्र

9- सम्पर्क सूत्र - सचिव, प्रा-भू-वि-बैंक / शाखा सचिव

 

11- बून्द-बून्द सिंचाई योजना: (232) -

क्र-सं- विवरण

1- योजना का नाम - बुन्द-बुन्द सिंचाई योजना

2- योजना का संक्षिप्त परिचय - बुन्द-बुन्द सिंचाई पद्धति से उपलब्ध जल का अधिकतम उपयोग करते हुए कृषि कार्य किया जाता है। सयंत्र हेतु भूमि विकास बैंकों द्वारा ऋण उपलब्ध करवाया जाता है।

3- प्रारम्भ होने का वर्ष - 1983-84

4- लाभान्वित वर्ग/पात्रता - कृषक

5- देय सुविधाये - बैंक द्वारा समय≤ पर परिवर्तित ब्याज दर लागू होगी । अवधिपार राशि पर 3 प्रतिशत की दर से दण्डनीय ब्याज देय होगा, उद्यान विभाग द्वारा इकाई लागत का 50 प्रतिशत। अधिकतम सीमा 4 हैक्टर मॉडल के सयंत्र हेतु अनुदान देय, पुनर्भुगतान अवधि 10-15 वर्ष

6- आवेदन का तरीका - प्रार्थना पत्र मय समस्त दस्तावेज के क्षेत्र के प्रा- बैंक / शाखा में प्रस्तुत करना होता है एंव कृषि भूमि बतौर प्रतिभूति प्राथ-बैंक के पक्ष मे बन्धक करनी होती है।

7- आवेदन कहॉ किया जावे - सम्बन्धित प्राथ- भूमि विकास बैंक एवं उनकी शाखा

8- आवेदन के साथ औपचारिकताये - पूर्ण भरा हुआ निर्धारित आवेदन पत्र मय दस्तावेज: जमाबन्दी, पासबुक, खसरा गिरदावरी, भूमि स्वामित्व दस्तावेज, नो- डयूज प्रमाण पत्र,भूमि के नक्शे की प्रति, शपथपत्र, उद्देश्य हेतु अनुमान पत्र आदि

9- सम्पर्क सूत्र - सचिव, प्रा-भू-वि-बैंक / शाखा सचिव

 

12- शैक्षणिक संस्थान हेतु ऋण योजना(233) -

क्र-सं- विवरण

1 योजना का नाम शैक्षणिक संस्थान योजना

2 योजना का संक्षिप्त परिचय शिक्षण संस्थान की स्थापना हेतु आर्थिक सहायता उपलब्ध कराना।

3 प्रारम्भ होने का वर्ष 2003-04

4 लाभान्वित वर्ग/पात्रता शैक्षणिक संस्थान/व्यक्तिगत,पंजीकृत समिति या ट्‌स्ट

5 देय सुविधाएं भवन निर्माण, लाईब्रेरी, छात्रावास, कार्यालय, फर्नीचर, कम्प्यूटर एवं शिक्षण सामग्री, प्रयोगशाला, वाहन, खेलकूद व मनोरंजन का सामान, अन्य विविध आवश्यक मद तथा कार्यशील पूंजी अधिकतम 20 लाख रुपये ऋण की अवधि 3 से 10 वर्ष(अधिकतम 18 माह का ग्रेस पीरियड सम्मिलित)

6 आवेदन का तरीका ऋण आवेदन पत्र पूर्ण कर प्राथमिक बैंक स्तर पर जमा कराया जाना।

7 आवेदन कहां किया जावे प्राथमिक बैंक मुख्यालय/संबंधित शाखा कार्यालय

8- आवेदन के साथ औपचारिकताएं परियोजना रिपोर्ट, तकमीने, प्रतिभूति के पत्रादि स्थानीय निकाय की अनुमति, शिक्षा विभाग की अनुमति, ना बकाया प्रमाण पत्र/शपथ पत्र, संबंधित विभाग से अनुमति/स्वीकृति तथा बोर्ड/यूनिर्वसिटी/तकनीकी बोर्ड से वांछित एफिलियेशन

9- सम्पर्क सूत्र प्राथमिक बैंक मुख्यालय/संबंधित शाखा कार्यालय

 

13- उच्च शिक्षा ऋण योजना(234) ---

क्र-सं- विवरण

1 योजना का नाम उच्च शिक्षा ऋण योजना

2 योजना का संक्षिप्त परिचय स्नातकोत्तर तकनीकी, मेडिकल, कृषि, वैटेनरी, आयुर्वेद, मैनेजमेन्ट आदि कोर्सेज के अध्ययन हेतु आर्थिक सहायता उपलब्ध कराना।

3 प्रारम्भ होने का वर्ष 2004-05

4 लाभान्वित वर्ग/पात्रता बैंक सदस्यों के बच्चों को स्नातकोतर एवं तकनीकी ,मेडिकल कोर्सेज में अध्ययन हेतु।

5 देय सुविधाएं कालेज/संस्था को देय ट्‌यूशन फीस, परीक्षा/लाइब्रेरी/प्रयोगशाला/होस्टल हेतु निर्धारित शुल्क, पुस्तकें, कम्प्यूटर आदि हेतु रू- 10-00 लाख तक ऋण सुविधा, अधिकतम अवधि 5 वर्ष

6 आवेदन का तरीका ऋण आवेदन पत्र पूर्ण कर प्राथमिक बैंक स्तर पर जमा कराया जाना।

7 आवेदन कहां किया जावे प्राथमिक बैंक मुख्यालय/संबंधित शाखा कार्यालय

8- आवेदन के साथ औपचारिकताएं परियोजना रिपोर्ट, कालेज/संस्था को देय ट्‌यूशन फीस, परीक्षा / लाइब्रेरी/ प्रयोगशाला/ होस्टल हेतु निर्धारित शुल्क, पुस्तकें, कम्प्यूटर आदि, प्रतिभूति के पत्रादि संबंधित कोर्स हेतु कॉलेज/संस्था द्वारा केन्द्र/राज्य सरकार द्वारा गठित संस्था की मान्यता प्राप्ति का प्रमाण, ना बकाया प्रमाण पत्र/शपथ पत्र, फीस आदि का विवरण।

9- सम्पर्क सूत्र प्राथमिक बैंक मुख्यालय/संबंधित शाखा कार्यालय

 

 

14- व्यक्तिगत वाहन ऋण योजना(235) -

क्र-सं- विवरण

1 योजना का नाम व्यक्तिगत वाहन ऋण योजना

2 योजना का संक्षिप्त परिचय व्यक्तियों का दुपहिया/चौपहिया वाहन उपलब्ध कराने हेतु आर्थिक सहायता उपलब्ध कराना।

3 प्रारम्भ होने का वर्ष 2004-05

4 लाभान्वित वर्ग/पात्रता बैंक कार्य़क्षेत्र का निवासी हो, सरकारी,व्यापारिक संस्थान में नियमित कर्मचारी, प्राेेफेशनल व्यक्ति, कृषि आय के आधार पर कृषक

5 देय सुविधाएं वाहन के मूल्य एवं अन्य एसेसरीज, रजिस्ट्रेशन, बीमा आदि हेतु।

6 आवेदन का तरीका ऋण आवेदन पत्र पूर्ण कर प्राथमिक बैंक स्तर पर जमा कराया जाना।

7 आवेदन कहां किया जावे प्राथमिक बैंक मुख्यालय/संबंधित शाखा कार्यालय

8- आवेदन के साथ औपचारिकताएं वाहन के अधिकृत विक्रेता का कोटेशन, वाहन संचालन का लाईसेंस, ना बकाया प्रमाण पत्र/शपथ पत्र, आय संबंधी प्रमाण, प्रतिभूति के पत्रादि।

9- सम्पर्क सूत्र प्राथमिक बैंक मुख्यालय/संबंधित शाखा कार्यालय

 

15- सूचना प्रोद्यौगिकी ऋण योजना(236) -

क्र-सं- विवरण

1 योजना का नाम सूचना प्रोद्यौगिकी ऋण योजना

2 योजना का संक्षिप्त परिचय व्यक्तियों को सूचना प्रोद्योगिकी से संबंधित इकाई की स्थापना हेतु आर्थिक सहायता उपलब्ध कराना।

3 प्रारम्भ होने का वर्ष 2005-06

4 लाभान्वित वर्ग/पात्रता बैंक के कार्यक्षेत्र में एक या अधिक व्यक्तियों, समिति अथवा ट्‌स्ट को इकाई के अनुभव के आधार पर देय, इकाई बैंक के कार्यक्षेत्र में होनी चाहिए।

5 देय सुविधाएं सूचना प्रोद्योगिकी से संबंधित समस्त प्रकार की आवश्यकताओं के लिए ऋण सुविधा अधिकतम 20 लाख रुपये तक का ऋण अवधि अधिकतम 10 वर्ष

6 आवेदन का तरीका ऋण आवेदन पत्र पूर्ण कर प्राथमिक बैंक स्तर पर जमा कराया जाना।

7 आवेदन कहां किया जावे प्राथमिक बैंक मुख्यालय/संबंधित शाखा कार्यालय

8- आवेदन के साथ औपचारिकताएं परियोजना रिपोर्ट, प्रतिभूति के पत्रादि, ना बकाया प्रमाण पत्र/शपथ पत्र, अनुभव/तकनीकी योग्यता संबधी प्रमाण आदि।

9- सम्पर्क सूत्र प्राथमिक बैंक मुख्यालय/संबंधित शाखा कार्यालय

 

16- स्वास्थ्य सेवा योजना (237) -

क्र-सं- विवरण

1 योजना का नाम स्वास्थ्य सेवा ऋण योजना

2 योजना का संक्षिप्त परिचय चिकित्सक को चिकित्सालय, डायग्नोस्टिक, स्थापित करने हेतु ऋण सुविधा

3 प्रारम्भ होने का वर्ष 2005-06

4 लाभान्वित वर्ग/पात्रता बैंक के कार्यक्षेत्र में एक या अधिक व्यक्तियों,जो वांछित योग्यता रखते हो तथा परियोजना हेतु आवश्यक राजकीय अनुमति /लाईसेंन्स हो। इकाई के अनुभव के आधार पर देय, इकाई बैंक के कार्यक्षेत्र में होनी चाहिए।

5 देय सुविधाएं चिकित्सालय, डायग्नोस्टिक, स्थापित करने हेतु भवन निर्माण, इनडोर सुविधाएंे, ऑपरेशन थियेटर एवं उपकरण आदि के लिये ऋण सुविधा अधिकतम 20 लाख रुपये तक का ऋण अवधि अधिकतम 10 वष(अधिकतम 18 माह का ग्रेस पीरियड सम्मिलित)र्

6 आवेदन का तरीका ऋण आवेदन पत्र पूर्ण कर प्राथमिक बैंक स्तर पर जमा कराया जाना।

7 आवेदन कहां किया जावे प्राथमिक बैंक मुख्यालय/संबंधित शाखा कार्यालय

8- आवेदन के साथ औपचारिकताएं परियोजना रिपोर्ट, प्रतिभूति के पत्रादि, अनुभव/तकनीकी योग्यता संबधी प्रमाण, ना बकाया प्रमाण पत्र/शपथ पत्र, आवश्यक राजकीय अनुमति/लाईसेन्स आदि।

9- सम्पर्क सूत्र प्राथमिक बैंक मुख्यालय/संबंधित शाखा कार्यालय

7- पर्यटन विकास योजना (238) -

क्र-सं- विवरण

1 योजना का नाम पर्यटन सेवा ऋण योजना

2 योजना का संक्षिप्त परिचय राज्य के विभिन्न पुरातत्व, ऐतिहासिक एवं पर्यटन कर दृष्टि से महत्वपूर्ण स्थानो पर पर्यटन सेवाओं को बढावा देने हेतु ऋण सुविधा

3 प्रारम्भ होने का वर्ष 2005-06

4 लाभान्वित वर्ग/पात्रता बैंक के कार्यक्षेत्र में एक या अधिक व्यक्तियों, समिति अथवा ट्‌स्ट को जो वांछित योग्यता रखते हो तथा परियोजना हेतु आवश्यक राजकीय अनुमति/लाईसेंन्स हो। समिति अथवा ट्‌स्ट, इकाई के अनुभव के आधार पर देय । इकाई बैंक के कार्यक्षेत्र में होनी चाहिए।

5 देय सुविधाएं होटल/ रेस्टोरेन्ट, मनोरंजन के साधन टयूरिष्ट कोच, गाईड सेवाऐंं आदि उद्देश्यों हेतु ऋण सुविधाऋण सुविधा अधिकतम 20 लाख रुपये तक का ऋण अवधि अधिकतम 10 वष(अधिकतम 18 माह का ग्रेस पीरियड सम्मिलित)

6 आवेदन का तरीका ऋण आवेदन पत्र पूर्ण कर प्राथमिक बैंक स्तर पर जमा कराया जाना।

7 आवेदन कहां किया जावे प्राथमिक बैंक मुख्यालय/संबंधित शाखा कार्यालय

8- आवेदन के साथ औपचारिकताएं परियोजना रिपोर्ट, प्रतिभूति के पत्रादि, अनुभव/तकनीकी योग्यता संबधी प्रमाण, ना बकाया प्रमाण पत्र/शपथ पत्र, आवश्यक राजकीय अनुमति/लाईसेन्स आदि।

9- सम्पर्क सूत्र प्राथमिक बैंक मुख्यालय/संबंधित शाखा कार्यालय

 

18- लघु पथ परिवहन वाहन ऋण योजना (239) -

क्र-सं- विवरण

1 योजना का नाम लघु पथ परिवहन वाहन ऋण योजना

2 योजना का संक्षिप्त परिचय लोक यात्री/भार वाहक नये वाहन हेतु ऋण सुविधा

3 प्रारम्भ होने का वर्ष 1992-93

4 लाभान्वित वर्ग/पात्रता बैंक के कार्यक्षेत्र में एक या अधिक व्यक्तियों, समिति को जो वांछित योग्यता एवं अनुभव रखते हो ।

5 देय सुविधाएं वाहन, बॉडी निर्माण, रजिस्ट्रेशन, बीमा एवं अन्य संबंधित आवश्यकताओं हेतु ऋण सुविधा ऋण सुविधा अधिकतम 10 वाहनों हेतु 15 लाख रुपये तक का ऋण अवधि अधिकतम 5 वर्ष(अधिकतम 18 माह का ग्रेस पीरियड सम्मिलित)

6 आवेदन का तरीका ऋण आवेदन पत्र पूर्ण कर प्राथमिक बैंक स्तर पर जमा कराया जाना।

7 आवेदन कहां किया जावे प्राथमिक बैंक मुख्यालय/संबंधित शाखा कार्यालय

8- आवेदन के साथ औपचारिकताएं परियोजना रिपोर्ट, प्रतिभूति के पत्रादि, ना बकाया प्रमाण पत्र/शपथ पत्र, वाहन संचालन संबंधी वैध लाईसेन्स आदि।

9- सम्पर्क सूत्र प्राथमिक बैंक मुख्यालय/संबंधित शाखा कार्यालय

 

19- जनमंगल आवास योजना (240) -

क्र-सं- विवरण

1 योजना का नाम जन मंगल आवास ऋण योजना

2 योजना का संक्षिप्त परिचय नये मकान निर्माण, मरम्मत/पुनरूद्धार/वर्षा जल संग्रहण आदि हेतु ऋण सुविधा

3 प्रारम्भ होने का वर्ष 1996-97

4 लाभान्वित वर्ग/पात्रता प्रार्थी के नाम से स्वयं के स्वामित्व का भूखण्ड/निर्मित भवन हों । बैंक के कार्यक्षेत्र में आवास निर्माण/मरम्मत /खरीदने हेतु ऋण सुविधा । प्रार्थी के पास पर्याप्त प्रतिभूति होनी चाहिये (चल-अचल सम्पत्ति)

5 देय सुविधाएं नये मकान निर्माण, मरम्मत/पुनरूद्धार/वर्षा जल संग्रहण आदि हेतु ऋण सुविधा ऋण सुविधा अधिकतम 15 लाख रुपये तक नये भवन निर्माण हेतु का ऋण अवधि अधिकतम 15 वर्ष, भवन मरम्मत/परिवर्तन/परिवर्द्धन हेतु 5 वर्ष की अवधि के लिए 5 लाख रुपये तक।

6 आवेदन का तरीका ऋण आवेदन पत्र पूर्ण कर प्राथमिक बैंक स्तर पर जमा कराया जाना।

7 आवेदन कहां किया जावे प्राथमिक बैंक मुख्यालय/संबंधित शाखा कार्यालय

8- आवेदन के साथ औपचारिकताएं भूखण संबंधित आवश्यक दस्तावेज, ना बकाया प्रमाण पत्र/शपथ पत्र, स्थानीय निकाई की अनुमति, भार प्रमाण पत्र, तकमीना व नक्शा, प्रतिभूति के पत्रादि

9- सम्पर्क सूत्र प्राथमिक बैंक मुख्यालय/संबंधित शाखा कार्यालय

 

20- स्वरोजगार क्रेडिट कार्ड योजना (241) -

क्र-सं- विवरण

1 योजना का नाम स्वरोजगार क्रेडिट कार्ड योजना

2 योजना का संक्षिप्त परिचय छोटे कारीगरो, बुनकरों, हथकर्घा, लघु उद्यमियों को स्वरोजगार हेतु ऋण सुविधा

3 प्रारम्भ होने का वर्ष 2003-04

4 लाभान्वित वर्ग/पात्रता कार्यक्षेत्र का निवासी एवं व्यवसाय का अनुभव

5 देय सुविधाएं मियादी ऋण/चक्रीय ऋण को शामिल करते हुये अधिकतम 50 हजार रुपये तक सम्मिश्रण ऋण सुविधा

6 आवेदन का तरीका ऋण आवेदन पत्र पूर्ण कर प्राथमिक बैंक स्तर पर जमा कराया जाना।

7 आवेदन कहां किया जावे प्राथमिक बैंक मुख्यालय/संबंधित शाखा कार्यालय

8- आवेदन के साथ औपचारिकताएं परियोजना रिपोर्ट, प्रतिभूति के पत्रादि, ना बकाया प्रमाण पत्र/शपथ पत्र, अनुभव संबधी प्रमाण, दो जमानतदारों के निर्धारित प्रपत्र में शपथ पत्र आदि।

9- सम्पर्क सूत्र प्राथमिक बैंक मुख्यालय/संबंधित शाखा कार्यालय

1- उद्यम ऋण योजना(242) -

क्र-सं- विवरण

1 योजना का नाम उद्यम ऋण योजना

2 योजना का संक्षिप्त परिचय उद्यमियों को ईकाई की स्थापना, संचालन हेतु अधिकतम 20-00 लाख रूपये तक की ऋण सुविधा

3 प्रारम्भ होने का वर्ष 2005-06

4 लाभान्वित वर्ग/पात्रता उद्यमी

5 देय सुविधाएं भवन व शैड, संयंत्र, मशीनरी, उपकरण और औजार, तकनीकी उन्नयन एवं एक आवर्ति चक्र की कार्यशील पूजी हेतु ऋण सुविधा अधिकतम 20 लाख रुपये तक का ऋण अवधि अधिकतम 10 वर्ष(अधिकतम 18 माह का ग्रेस पीरियड सम्मिलित)

6 आवेदन का तरीका ऋण आवेदन पत्र पूर्ण कर प्राथमिक बैंक स्तर पर जमा कराया जाना।

7 आवेदन कहां किया जावे प्राथमिक बैंक मुख्यालय/संबंधित शाखा कार्यालय

8- आवेदन के साथ औपचारिकताएं परियोजना रिपोर्ट, प्रतिभूति के पत्रादि, ना बकाया प्रमाण पत्र/शपथ पत्र, अनुभव संबधी प्रमाण, वांछित राजकीय अनुमति, आवश्यकतानुसार दो जमानतदारों के निर्धारित प्रपत्र में शपथ पत्र आदि।

9- सम्पर्क सूत्र प्राथमिक बैंक मुख्यालय/संबंधित शाखा कार्यालय

 

 

22- कृषि यंत्रीकरण योजना(244) -

क्र-सं- विवरण

1 योजना का नाम ट्‌ृैक्टर नकद ऋण भुगतान योजना

2 योजना का संक्षिप्त परिचय बैंक ऋण से ट्‌ैक्टर एवं कृषि मशीनरी क्रय करने वाले लाभार्थियों को आर्थिक हानि न हो तथा वे अपने मनपसन्द मैक/मॉडल के ट्‌ैक्टर एवं कृषि मशीनरी इच्छित फर्म से अधिकतम नकद छूट के साथ क्रय कर सके। उद्देश्य की पूर्ति हेतु स्वीकृत ऋण का भुगतान सीधे कृषक को किया जाता है।

3 प्रारम्भ होने का वर्ष - 2008-09

4 लाभान्वित वर्ग/पात्रता - कृषक के पास कम से कम 6 एकडृ बारहमासी ंसचित भूमि अथवा समकक्ष मूल्य की बारानी कृषि योग्य भूमि होनी चाहिये।

5 देय सुविधाएं बैंक द्वारा स्वीकृत ऋण का भुगतान फर्म/विक्रेता के स्थान पर स्वयं कृषक को भुगतान किये जाने का प्रावधान

6 आवेदन का तरीका ऋणी सदस्य को निर्धारित आवेदन पत्र में संबंधत प्राथमिक सहकारी भूमि विकास बैंक की शाखा में ऋण हेतु आवेदन करना होगा।

7 आवेदन कहां किया जावे प्राथमिक सहकारी भूमि विकास बैंक एवं संबंधित शाखा में

8- आवेदन के साथ औपचारिकताएं अन्तिम जमाबन्दी, गत तीन वर्षो की गिरदावरी, भूमि का नक्शा, संबंधित वित्तीय संस्थाओं के ना-बकाया प्रमाण पत्र, प्रार्थी के दो फोटो, संबंधित केन्द्रीय सहकारी बैंक के बचत खाते की पासबुक के प्रथम पृष्ठ की छाया प्रति ।

9- सम्पर्क सूत्र समीपस्थ प्राथमिक भूमि विकास बैंक की शाखा

 

23- महिला विकास ऋण योजना(245) -

क्र-सं- विवरण

1 योजना का नाम महिला विकास ऋण योजना

2 योजना का संक्षिप्त परिचय महिला विकास ऋण योजनान्तर्गत महिलाओं को अचल सम्पत्ति बंधक रखे बिना अकृषि कार्य एवं डेयरी उद्देश्य हेतु 50000 रूपये तक का ऋण सुविधा दी जाती है।

3 प्रारम्भ होने का वर्ष 2000-01

4 लाभान्वित वर्ग/पात्रता

(अ) महिला बैंक के कार्यक्षेत्र की निवासी हो।

(ब) महिला प्रस्तावित उद्योग अथवा सेवा गतिविधि के संचालन हेतु सक्षम हो।

(स) ऋण प्राप्त करने हेतु दो व्यक्तियों को, जिनमें से एक महिला के पति अथवा निकटतम रिश्तेदार हों, से ऋण एवं ब्याज के समय पर चुकारे के संबंध में निर्धारित प्रपत्रा में जमानत देनी होगी। महिला के पति अथवा रिश्तेदार के स्वयं के नाम से भारमुक्त अचल सम्पति हो, जिसके स्वामित्व संबंधी मूल पत्रादि जमानत स्वरूप बैंक में रखने होंगे।

5 देय सुविधाएं अकृषि ऋण एवं डेयरी हेतु 50000 रू का ऋण 5 वर्ष की अवधि के लिये दिया जाता है।

6 आवेदन का तरीका ऋणी सदस्य को निर्धारित आवेदन पत्र में संबंधति प्राथमिक सहकारी भूमि विकास बैंक की शाखा में ऋण हेतु आवेदन करना होगा।

7 आवेदन कहां किया जावे प्राथमिक सहकारी भूमि विकास बैंक एवं संबंधित शाखा में

8- आवेदन के साथ औपचारिकताएं

1- आवेदक को बैंक का सदस्य बनना होगा

2- महिला प्रस्तावित उद्योग एवं सेवा गतिविधि के संचालन हेतु सक्षम हो।

3- ऋण प्राप्त करने हेतु दो व्यक्तियों की जिनमे से एक महिला के पति अथवा निकटतम रिस्तेदार हो से ऋण एवं ब्याज के समय पर चुकारे के संबंध में निर्धारित प्रपत्र में जमानत देनी होगी। महिला के पति अथवा रिस्तेदार स्वयं के नाम से भारमुक्त संपत्ति हो, मूल पत्रादि जमानत स्वरूप बैंक में प्रस्तुत करने होगे।

4- दूसरे जमानतदार की संपत्ति के पत्रादि की सत्यापित प्रति प्राप्त की जावे। आवेदन पत्र के 9-साथ निम्न पत्रादि संलग्न करने होगे ।

9- सम्पर्क सूत्र प्राथमिक बैंक मुख्यालय/संबंधित शाखा कार्यालय

 

24- सावधि जमा योजना (246) -

क्र-सं- विवरण

1- योजना का नाम - सावधि जमा योजना।

2- योजना का संक्षिप्त परिचय - सावधि जमा योजना अन्तर्गत इस बैंक में कम से कम एक वर्ष व अधिक से अधिक दो वर्षों के लिए राशि जमा की जाती है।

3- प्रारम्भ होने का वर्ष - 2002-03

4- लाभान्वित वर्ग/पात्रता - बैंक क्षेत्र के कृषकों/व्यक्तियों में बचत की प्रवृत्ति को बढाने हेतु।

5- देय सुविधाये- सावधि जमा पर ऋण सुविधा, वरिष्ठ नागरिकों को निर्धारित ब्याज दर से 0-50 प्रतिशत अधिक ब्याज देय है।

6- आवेदन का तरीका - आवेदन पत्र के साथ परिचय पत्र/राशन कार्ड/पैन कार्ड, फोटो (प्रमाणित) प्रमाणित हस्ताक्षर आदि।

7- आवेदन कहॉ किया जावे - राज्य भूमि विकास बैंक के प्रधान कार्यालय, बैंक के 7 क्षेत्रीय कार्यालयों एवं 16 प्राथमिक बैंक क्रमश: अजमेर, टौंक, भरतपुर, धौलपुर, जयपुर, दौसा, जोधपुर, बालोतरा, झालावाड, कोटा, बीकानेर, श्रीगंगानगर, रायसिहंनगर, चित्तौडगढ, राजसमन्द एवं उदयपुर द्वारा सावधि जमा राशि प्राप्त की जाती है।

8- आवेदन के साथ औपचारिकताये - क्रम संख्या 4 के अनुसार।

9- सम्पर्क सूत्र - उप महा प्रबध्कां (लेखा एवं वित्त), क्षेत्रीय प्रबंधक एवं संबंधित प्राथमिक भूमि विकास बैंक के सचिव

 

name
name
Design & Developed by Computer Section @ 2019, R.S.L.D.B. Ltd., Jaipur
name